1.00

सहकारी बैंक ने 4 करोड़ की पेनाल्टी पटाई, बोर्ड नाराज

रायपुर. जिला सहकारी बैंक ने पेनाल्टी के रूप में करीब चार करोड़ रुपए नेफ्ट के माध्यम से भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को अदा कर दिए हैं. इतनी बड़ी राशि की अदायगी पर चार सदस्यी बोर्ड के सदस्यों में से आधे ने कहा कि उन्हें इस बारे में कुछ भी नहीं पता. जबकि जानकार कह रहे हंै कि नियम के तहत बोर्ड के सभी सदस्यों से इसकी मंजूरी ली जानी चाहिए थी. बैंक सूत्रों ने बताया कि मामला वर्ष 2014 के दौरान का है जब केवाईसी मामले में भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने जिला सहकारी बैंक रायपुर पर 3 करोड़ 93 लाख 98 हजार 343 रुपए की पेनाल्टी लगाई थी. तब बैंक के सीईओ अनूप अग्रवाल थे, जिन्हें बड़ी गड़बड़ी के मामले में 27 मार्च 2015 को पद से हटा दिया गया था. उसके बाद एस.पी. चंद्राकर को प्रभारी सीईओ बनाया गया. वे अगस्त 2016 तक रहे, फिर आरबीआई-नाबार्ड की पहल पर नए सीईओ की नियुक्ति की गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *